क्या आपको या आपके परिवार के किसी पुरुष को पेशाब से जुड़ी यह समस्यायें होती हैं:• रात के समय में अधिक मात्रा में बार-बार पेशाब होना ।• पेशाब की धार या वेग का कमजोर हो जाना ।• मूत्र मार्ग में संक्रमण (इन्फेक्शन) होना ।• पेशाब करते समय दर्द या जलन होना ।• पेशाब के साथ रक्त (खून) का आना ।• पेशाब को रोक कर रख पाने में असमर्थता (अपने - आप पेशाब हो जाना ) ।• पेशाब करते समय दबाव या भारीपन महसूस होना ।• पूरी तरह से पेशाब की थैली का खली हुआ महसूस न होना (पेशाब करने के बाद भी ऐसा महसूस होना की अभी पेशाब पूरी तरह से नहीं हुई है )।• बूँद-बूँद कर पेशाब का होना (मुख्य रूप से एक बार पेशाब कर लेने के बाद)।• पेशाब की थैली की पथरी ।यह समस्यायें बढ़ी हुई प्रोस्टेट के कारण हो सकती हैं, बढ़ी हुई प्रोस्टेट से जुड़ी अन्य जानकारियों के विषय में विस्तार से पढ़ने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें :https://goo.gl/Z0i3B2 आयुर्वेद में है बढ़ी हुई प्रोस्टेट का स्थाई समाधान !